By Doing Away With Middlemen Farmers Income Doubles

With cooperative action, avoiding the middlemen, farmers in Buxar district have doubled their farm income. And all this happened is just 3 years. 

बक्सर जिले के किसान बिचौलिया-मुक्त कृषि का एक बेहतर उदाहरण पेश कर रहे हैं। जिले के नया भोजपुर गांव की बात करें तो यहां किसानों की नई सोच, सामूहिक प्रयास और प्रयोगधर्मिता ने विकास की नई कहानी लिखी है। पिछले तीन साल में गांव की तस्वीर बदल गई है। यहां संपन्नता की रौनक स्पष्ट देखी जा सकती है। 

नया भोजपुर के किसान तीन साल पहले तक आम किसानों की तरह ही पारंपरिक शैली में खेती करते थे। सीजनल फसलों के अलावा गोभी, मक्का भी उगाते थे। सबकी प्राथमिकताएं, सुखदुख और तौर-तरीके अलग-अलग थे। लेकिन एक बात सबके बीच समान थी। सभी किसान बिचौलियों के चंगुल में फंसे हुए थे। लिहाजा सभी की माली हालत खस्ता थी। ऐसे में प्रकाश राय, कमलेश प्रसाद और मनोज सिंह जैसे कुछ किसानों ने मिलकर सामूहिक प्रयास शुरू किया।

Read more of this in a report by Kanchan Kishore published in Jagran....

News Source
Jagran

What do you think?

More from Bharat Mahan