PMUY- Be Careful of Unscrupulous Persons Offering LPG Connection

एलपीजी कनेक्‍शन पाने हेतु बेईमान एजेंसियों के बहकावे में न आने के लिए पीएमयूवाई के लाभार्थियों से अपील

प्रधानमंत्री उज्‍ज्‍वला योजना (पीएमयूवाई) का उद्देश्‍य गरीब परिवारों को एलपीजी कनेक्‍शन मुहैया कराना है। यह रसोई घरों को धुआं रहित रखने की मुहिम का एक हिस्‍सा है। इस योजना के तहत गरीब परिवारों की महिलाओं को बगैर किसी जमानत राशि के एलपीजी कनेक्‍शन दिए जाते हैं और इसके साथ ही विशेष कीमत वाला किफायती स्‍टोव भी मुहैया कराया जाता है। लाभार्थियों के पास स्‍टोव खरीदने के साथ-साथ प्रथम रिफील की लागत वहन करने के लिए ब्‍याज मुक्‍त ऋण पाने का भी विकल्‍प रहता है। वर्ष 2011 की जनगणना के मुताबिक, इस योजना के तहत लाभार्थियों की पहचान एसईसीसी आंकड़ों के आधार पर की जाती है। 

पीएमयूवाई के तहत एलपीजी कनेक्‍शन पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय की देखरेख में सरकारी तेल विपणन कंपनियों के केवल अधिकृत एलपीजी वि‍तरकों द्वारा ही जारी किए जाते हैं। इस ओर ध्‍यान दिलाया गया है कि कुछ विशेष क्षेत्रों में कुछ बेईमान लोग खुद को सरकार द्वारा नियुक्‍त एनजीओ के रूप में पेश करके पीएमयूवाई के तहत एलपीजी कनेक्‍शन जारी करने में सुविधा हेतु लाभार्थियों से संपर्क साधने की कोशिश कर रहे हैं और इसके बदले में उनसे पैसे ले रहे हैं। बरेली क्षेत्र (उत्‍तर प्रदेश) में इसी तरह धोखाधड़ी से अपना परिचालन करने वाली एजें‍सी से जुड़े कुछ लोगों को स्‍थानीय पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सभी संबंधित लोगों के ध्‍यानार्थ यह सूचित किया जाता है कि पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के जरिये भारत सरकार ने पीएमयूवाई के तहत एलपीजी कनेक्‍शन जारी करने के लिए किसी एनजीओ अथवा किसी भी अन्‍य एजेंसी को नियुक्‍त नहीं किया है। किसी भी क्षेत्र में इस तरह से कार्यरत कोई भी एनजीओ/एजेंसी पूरी तरह से अवैध है और इस संबंध में कोई भी सूचना पुलिस एवं अन्‍य स्‍थानीय प्राधिकरणों को दी जानी चाहिए। 

तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) द्वारा नियुक्‍त एलपीजी वि‍तरकों के नेटवर्क के जरिये पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय पीएमयूवाई के लाभार्थियों को एलपीजी कनेक्‍शन सुविधाजनक ढंग से जारी करने में मदद कर रहा है। सभी संभावित लाभार्थियों को केवल सरकारी तेल कंपनियों जैसे कि इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड, हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड और भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड के एलपीजी वितरकों से ही संपर्क साधना चाहिए। किसी भी तरह का संशय होने/स्‍पष्‍टीकरण की स्थिति में लाभार्थी इन तेल विपणन कंपनियों के स्‍थानीय अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। पीएमयूवाई के लाभार्थियों के हित में एक विशिष्‍ट टोल फ्री हेल्‍पलाइन नम्‍बर (18002666696) भी अनेक भाषाओं में उपलब्‍ध कराया गया है। 

पीएमयूवाई के तहत सभी लाभार्थियों को सावधान किया जाता है कि वे इस तरह की किसी भी बेईमान एजेंसी के बहकावे में कतई नहीं आएं और केवल सरकारी तेल विपणन कंपनियों के अधिकृत वितरकों/प्रतिनिधियों से ही संपर्क करें। 

News Source
PIB Release

What do you think?

More from Bharat Mahan