Videos

दायित्व RESPONSIBILITY

मानव जीवन कर्म प्रधान है। जन्म के साथ ही संबंध और कर्तव्य जुड़ जाते हैं। मनुष्य कभी अकेला नहीं रहता, किसी-न-किसी की आवश्यकता तो उसे पड़ती ही है और जब साथ में जीवन बिताना ही है , तो एक-दूसरे के हित को भी विचार करना पड़ता है।यहीं से दायित्व आरम्भ होता है।

दायित्व का अर्थ जिम्मेदारी भी होता है। दायित्व

संगति FRIENDSHIP

संगति अर्थात  साथ रहना, जिस भी वस्तु, विषय या व्यक्ति के साथ निरंतर संपर्क में हम रहते हैं उसका प्रभाव हमारे व्यक्तित्व पर पड़ जाता है। संगति यही  है।सदा सद्संगति में ही रहना चाहिए, जिससे कि जीवन में सद्भाव , सदाचार और नैतिकमूल्यों को अपना सकें।विशेष कर बालावस्था  और  किशोरावस्था में संगति का अधिक

सामाजिक परिवर्तन के लिए एकल मॉडल

आज से हम शुरू कर रहे हैं एक नया वीडियो सेक्शन। इसमें एकल अभियान द्वारा किए गए कार्यों के विषय में हम बताएंगे।

वीडियो में जो डाटा दिया गया है वह पिछले वर्ष का है। 30 जून 2019 तक का जो डाटा है उसके हिसाब से एकल 91,035 स्कूल चला रहा है। इसमें 2,467,283 बच्चे पढ़ते हैं जिनमें 1,235,010 बालिकाएं हैं और

Ekal Model For Social Change

This is a new video section which we are starting today. This is to bring in front of our viewers what Ekal has been doing for the last 30 years, for the overall development in rural Bharat, particularly in the education field. The first video being posted here is Ekal's 2019 film, which gives a

अनुुुुभूति EPIPHANY

अपने अनुभव से प्राप्त होनेवाला आभास ही अनुभूति है। महान उपदेशक के उपदेश को हम सुनते हैं, किन्तु उसे अपने जीवन में आत्मसात करने के लिए अनुभूति की आवश्यकता होती है।

दैनिक जीवन में कई प्रसंग ऐसे होते हैं, जिनसे हम कुछ-न-कुछ सीखते हैं। हम तभी सीखते जब मन मानता है I स्व-आभास की आवश्यकता है।आत्मा जब किसी

साहस BRAVERY

साहस से मनुष्य असंभव को भी संभव बना सकता है। साहस की आवश्यकता केवल युद्ध में ही नहीं, सार्वजनिकजीवन में भी पड़ती है।कई अवसर ऐसे आते हैं, जिसमें कि हमारे पास सब कुछ होते हुए भी कार्य पूर्ण नहीं होता, उस कार्य को पूर्ण करने का साहस नहीं होता।

साहस के लिए शारीरिक क्षमता के साथ मानसिक बल की भी आवश्यकता

भाग्य GOOD LUCK

भाग्य वह है, जिसे हम समझते हैं कि ईश्वर ने रचा है I भाग्य में जो लिखा है वही होगा, किंतु यह सच नहीं है I भाग्य ईश्वर द्वारा दिया गया एक संकेत है, जिसे  प्रेरणा मान कर हमें कर्म करना है। भाग्य अलौकिक है कभी-कभी, किंतु अदृश्य नहीं है। परिश्रम भाग्य की पहली सीढ़ी  है।भाग्य भरोसे बैठे रहने से लाभ नहीं

KUCH TUM BADLO, KUCH HUM BADLE

परिवर्तन संसार का नियम हैI प्रत्येक विषय वस्तु सदा परिवर्तित होती रहती है, क्योंकि समय कभी ठहरता नहींI सारांश यह है कि भौतिकता सदा बदलती रहती है।हम जिस भी परिवेश में रहते हैं, उस वातावरण का प्रभाव हम पर रहता है, इसलिए हमारी एक निश्चित धारणा बन जाती है, कभी-कभी हमारी सोच हमारी धारणा कल्याणकारी रहती

संस्कृति CULTURE

आत्मा संस्कृति है तो, सभ्यता शरीर है। शरीर नश्वर है किंतु आत्मा अमर है। किसी भी देश में भौतिक बदलाव आते हैं, सभ्यता बदलती है, किंतु संस्कृति नहीं।हमारा खान-पान, रहन-सहन और जीवनशैली ये सभी संस्कृति के अंग हैं। भारतीय संस्कृति उत्कृष्ट उदाहरण हैं।उदाहरण स्वरूप हम अभिवादन के लिए हाथ जोड़ते हैं I कितने

Learning Through Comics चित्रकथा के माध्यम से शिक्षा

Usually parents are very concerned that their children are not taking interest in studies. Even the teachers are very worried that inspite of their best efforts in the classrooms, the students do not easily grasp what is being taught. It has been observed that if the lessons are taught through

More from Bharat Mahan