Miscellaneous

Clean Ganga Programme in All 78 Jharkhand Villages on its Banks

झारखंड के 78 गांव में एक साथ गंगा को साफ रखने की शुरुआत आज गंगा संरक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत ग्रामीण स्वच्छता पहल का शुभारंभ झारखंड में हो रहा है। गंगा को पुनर्जीवन देने के लिए एक मॉडल के रूप में यह कार्यक्रम झारखंड में विकसित किया जा रहा है। गंगा के किनारे बसे सभी 78 गांवों को खुले में शौच मुक्त

Digs Well as Wife Denied Water

महाराष्ट्र में एक दलित मजदूर की कहानी भी कुछ 'माउंटैन मैन' दशरथ मांझी की तरह है। कुएं के मालिक ने एक दिन पत्नी को पानी नहीं भरने दिया। BA पास मजदूर बापूराव को पत्नी की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं हुई और उसने खुद कुआं खोदने की जिद ठान ली। दिन-रात एक कर 40 दिन में जमीन से पानी निकाल दिया। और पढ़े...

Pani ke sangrakshan ke liye sahyog, sah-nirman ka ahwan

पानी के संरक्षण के लिये सहयोग , सह-निर्माण का आह्वान प्रधान मंत्री ने अपने ‘मन की बात’ संबोधन में आह्वान किया था “क्या हम गांव-गांव पानी बचाने के लिये, एक अभी से अभियान चला सकते है।” सरकार द्वारा एक विज्ञापन जारी किया गया हैं, जिसमे सभी नागरिको, स्वयं सेवी संस्थाओं, युवा संगठनों, पंचायतों .. को एक

SHG For Community Development

स्वयं सहायता समूह से सभी का विकास यह सुखद आश्चर्य है कि देवघर (झारखंड) जिले के पालाजोरी प्रखंड में स्थित भौंराडीह गांव के किसान ५-६ वर्षो में सुखी हो गये। उनके लिए न तो सरकार ने बहुत कुछ किया, न ही छत फाड़कर धन वर्षा हुई। बात बस इतनी सी हुई की गांव की एक गरीब महिला के मन में सामूहिकता की भावना जगी,

More from Bharat Mahan